What is NEFT | NEFT Kya Hai | NEFT Ka Matlab Kya Hai

Spread the love

 

NEFT के बारे में तो आप ने जरूर सुना होगा शायद तभी आप इस article को पढ़ रहे है अगर NEFT के बारे में नहीं सुना तो भी कोई बात नहीं हम आपको NEFT के बारे में बतायेंगे की NEFT kya hota hai और NEFT kaise kaam karta hai

आज पैसा transfer करने के बहुत से तरीके आ गए है NEFT भी उन्हीं एक तरीके में से एक है. NEFT, IMPS और RTGS ये bank द्वारा इस्तेमाल में लायी जाने वाली ऐसी तकनीक है जो पैसा transfer करने के काम में लायी जाती.

NEFT Kya Hai in Hindi | NEFT ka Full Form kya hai

तो आपको बता दे की NEFT ki full form होती है national electronics fund transfer. और NEFT kya hota hai in Hindi “ राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक निधि अंतरण”

इस technology का इस्तेमाल एक bank खाते से दूसरे bank खाते में पैसो को transfer करने के लिए किया जाता है

NEFT को reserve bank of India संचालित करता है. इसको 2005 में IDRBT ( institute for development and research in banking technology के द्वारा बनाया और स्थापित किया गया था. इसकी मदद से जो bank NEFT system supported है उनके बीच पैसे का transfer किया जा सकता है

NEFT की मदद से आप कितना भी पैसा कम या ज्यादा transfer कर सकते है funds transfer की कोई limit नहीं होती

आप जिस व्यक्ति को NEFT करवाना चाहते है आपको उसकी NEFT details चाहिये होती है जैसे की account holder name, branch name, IFSC code of branch, bank का नाम.

जब आप किसी new person को NEFT के लिए आपने account में add करते है तो bank उसको verify करता है इस process को complete करने में bank को 12 से 24 घंटे लगते है. एक बार जब person verify हो जाता है तो पैसे transfer कर दिए जाते है.

NEFT की मदद से आप किसी भी व्यक्ति, फार्म, या company को पैसा भेज सकते है

ये पोस्ट भी जरुर पढ़े :Credit card kya hai Debit card kya hota hai

RTGS Kya Hai | RTGS ka full Form kya hai

इसी की तरह एक और term इस्तेमाल में लायी जाती है जिसका इस्तेमाल भी पैसे को transfer करने में लिया जाता है. RTGS ka full form ( Real Time Gross Settlement ) . ये एक real time funds transfer service है. जबकि जो NEFT होता है वह पर fund transfer real time नहीं होता

NEFT कैसे काम करता है

NEFT आप दो प्रकार से करवा सकते है पहला तरीका है online जो की आप खुद ही अपने bank की website पर जाकर कर सकते है. दूसरा तरीका है offline का, इसके लिए आपको अपने bank में जाना होगा और वह NEFT form fill करके submit करवाना होगा. जिसके बाद bank वाले NEFT की प्रक्रिया शुरू कर देंगे

NEFT में fund transfer RTGS या IMPS के जैसा तुरंत नहीं हो जाता. या कहे की real time में नहीं होता. NEFT में fund transfer प्रति घंटे 23 batches जो पूर्व निर्धारित होते है में होता है

NEFT Kaise Kare Online | How to do NEFT in Hindi

  • सबसे पहले आपको अपने bank account में login करना होगा
  • उसके बाद आपको NEFT fund transfer के section में जाना होगा
  • इसके बाद आपको उस beneficiary को add करना होगा जिसे आप fund transfer करना चाहते है वह पर आपको beneficiary का detail जैसे bank account name, bank account number व IFSC code डालना होगा
  • उसके बाद जब bank beneficiary को verify कर लेता है तो आप उस को funds transfer कर सकते है आपको उसके बाद बस amount डालना है और submit करना है

ये पोस्ट भी जरुर पढ़े : Mutual funds kya hai: Mutual funds in Hindi

NEFT का क्या चार्ज लगता है | NEFT charges

NEFT करवाने पर नाम मात्र का चार्ज लगता था जो की इस प्रकार था

  • 10000 रुपए तक – 2.5 रुपए
  • 10000 से 1 लाख तक – 5 रुपए
  • 100000 से 200000 लाख तक – 15 रुपए
  • 200000 से 500000 लाख तक – 25 रुपए
  • 500000 से 1000000 लाख तक – 50 रुपए

NEFT में ये चार्ज जो व्यक्ति पैसा भेज रहा उस पर लगाया जाता था न की पैसा पाने वाले पर या beneficiary से कोई भी चार्ज नहीं लिया जाता था .

लेकिन 11 जून 2019 से reserve bank of India द्वारा इस फीस को हटा दिया गया है अब कोई भी bank इस तरह की फीस NEFT करवाने पर चार्ज नहीं कर सकते. NEFT करवाना अब पूरी तरह से free है. न सिर्फ NEFT आप RTGS भी पूरी तरह free करवा सकते है.

वैसे reserve bank of India से ऊपर तो कोई bank नहीं है ये ही सभी bank को govern करता है इसकी बनायीं गयी पालिसी को सभी bank को पालन करनी पड़ती है. नहीं तो ये bank का लाइसेंस cancel कर सकता है. लेकिन फिर भी आप चाहे तो अपने bank के प्रतिनिधि से NEFT से सम्बंदित charges के बारे पूछ सकते है

ये पोस्ट भी जरुर पढ़े : Demat account kya hai | demat account in Hindi

NEFT के क्या फायदे है | Benefits of NEFT

  • NEFT करवाने की फीस बहुत ही कम है
  • Beneficiary को funds transfer fees नहीं देनी पड़ती
  • NEFT बहुत ही आसान है इसके जरिये कोई भी person, फर्म या company एक दूसरे को पैसे भेज सकती है
  • आप जिसको पैसे भेजते है पैसे सीधे उसके account में चले जाते है पैसे लेने के लिए उसको bank जाने की जरूरत नहीं पड़ती
  • NEFT का इस्तेमाल आप कही से भी कर सकते है funds transfer करवाने के लिए bank जाने की आवशकता नहीं आप online bank की website से NEFT initiate कर सकते है

NEFT vs RTGS | NEFT or RTGS Me Kya antar Hai

RTGS में पैसा तुरंत transfer हो जाता है वही NEFT में जैसा की हमने ऊपर बताया की कुछ time लगता है. RTGS में हर transaction individually और separately होती है. वही NEFT में funds की settlement batches में होती है जो hourly time slot में बांटे हुए होते है

ये पोस्ट भी जरुर पढ़े : DigiLocker Kya Hai और कैसे Digilocker का इस्तेमाल कैसे करे

Conclusion

तो दोस्तों आपने जाना की NEFT kya hai, NEFT Full Form, NEFT Kaise Kare Online इसके अलावा भी हमने आपको NEFT से जुड़ी कई जानकारियाँ दी. आशा करते है आपको NEFT के बारे में सभी जानकारी मिल गयी होगी. अगर फिर भी आपके कोई doubt या सवाल है तो आप हमसे comment section में पूछ सकते है

इसके अलावा हम चाहेंगे की आप इस पोस्ट को अपने हर उस दोस्त के साथ शेयर करें जिसे NEFT Kya hai नहीं पता. क्यूकि digital india में एक भी ऐसा आदमी नहीं छुटना चाहिये जिसे digital banking का ज्ञान न हो. वो भले ही NEFT का इस्तेमाल न करें पर use पता होना ही चाहिये की NEFT kya hota hai

और हाँ दोस्तों आप चाहे तो हमें social media पर follow भी कर सकते है

 

Leave a Comment