ecommerce क्या है | ecommerce in Hindi

e-commerce-kya-hai ? | ecommerce in Hindi

ecommerce को electric commerce या internet commerce के नाम से भी जाना जाता है. इसे ऐसा इस लिए कहा जाता है क्यु की एक ecommerce में internet का इस्तेमाल करके goods और services को ख़रीदा व बेचा जाता है व पैसे का आदान प्रदान भी internet के ज़रिये ही होता है. आपको बता दे की कुछ लोग केवल physical product sale या online shopping को ही ecommerce समझते है. लेकिन ऐसा नहीं है. किसी भी तरह का commercial transaction जिसमें में business involve हो या business करने के लिए transaction किया गया हो वो ecommerce कहलाता है

ecommerce full form

ecommmerce की full form इंग्लिश में होती है “electric commerce”

e-commerce meaning in Hindi

ecommerce को Hindi में “ई-वाणिज्य” कहते है

e commerce company meaning in Hindi

ecommerce company basically उस company को कहते जो online या internet-based business करती है

Ecommerce History in Hindi

Ecommerce को 40 साल पहले introduce किया गया था. Internet के इतिहास में सबसे पहली ecommerce transaction 1994 में की गयी थी. वो व्यक्ति जिसका नाम Phil Brandenberger था. उस व्यक्ति ने अपने credit card का इस्तेमाल करके एक किताब को ख़रीदा था.

1995 में jeff Bezos ने amazon की शुरु वात की थी उस समय amazon सिर्फ किताबें ही बेचा करती थी

1998 PayPal ने ecommerce payment system की शुरु वात की थी इसके founder थे peter Thiel, Max Levhin, ken Howery, like Nosek. बाद में इसको सन 2000 में Elon Musk की online banking company में merge कर दिया गया था. जिसके बाद paypal का कारोबार व नाम बहुत अधिक बढ़ गया था

1999 में jack मा ने Alibaba की स्थापना की जो की एक online marketplace थी

बस ये ही ecommerce की शुरु वात थी और बाद में एक के बाद एक कई नए innovations होते गए जिन्होंने ecommerce को और मजबूत कर दिया

ई कॉमर्स के कितने प्रकार होते हैं?

ecommerce business को इस आधार पर divide किया जा सकता है की वो किस के बीच हो रहा है

  • B2B (Business to Business)-

जब एक बिज़नस किसी दूसरे बिज़नस को माल बेचता है तो उसको B2B ( Business to Business )

कहते है उद्धरण के लिए जैसे कोई कार के पार्ट्स बनाने वाली company है वो कार बनाने वाली company को सामान बेचे तो वो Business to Business कहा कहलायेगा

  • B2C (Business to Consumer)-

जब कोई business अपना सामान किसी individual consumer को बेचता है तो वो business B2C ( Business to Consumer ) based होता है

  • C2B (Consumer to Business)-

जब कोई individual consumer या person अपनी goods या services किसी company को sale करता है तो ऐसा business C2B (Consumer to Business) कहलाता है

  • C2C (Consumer to Consumer)

जब कोई एक consumer दूसरे consumer को अपनी goods and services sale करता है तो वो C2C ( Consumer to Consumer ) business कहलाता है. उद्धरण के लिए जैसे आप olx की मदद से अपनी bike किसी दूसरे consumer को बेचते है तो वो इस श्रेणी में आता है

Ecommerce business को हमने ने seller व buyer के आधार पर तो बंटा पर इसके अलावा ecommerce को हम objective के आधार पर भी divide कर सकते है.

  • Retail- जब retail होता है तो यहाँ business के द्वारा product सीधे ही consumer को बेचा जाता है और बीच में कोई बिचोलिय नहीं होता
  • Wholesale- यहाँ सेल जो है वो bulk में की जाती है व retailer को की जाती है जो बाद में उसे सीधे consumer को बेचता है
  • Crowdfunding- crowdfunding का इस्तेमाल crowd से fund raise करने के लिए किया जाता है. Crowdfunding के जरिये start-ups, वा किसी cause के लिए donation या fund raise किया जा सकता है
  • Digital product- images, courses, digital files download digital goods, की सेल भी ecommerce का हिस्सा है और ecommerce का ही इस्तेमाल इनको सेल करने के लिए किया जाता है
  • Subscription based – software’s, services जो ecommerce पर बेचीं जा रही है वो इस श्रेणी में रखी जा सकती है
  • Drop shipping- Drop shipping के आधार पर भी ecommerce को बंटा जा सकता है. Drop shipping भी online आज के समय बहुत अधिक किया जा रहा है और ecommerce का हिस्सा है
  • Service based- fiverr, upwork, freelancer जैसी sites है जहां पर ज़्यादातर services ही बेचीं जाती है और ये service based ecommerce एक बड़ा हिस्सा है internet का

ई कॉमर्स साइट कौन सी है

वैसे तो लाखों ecommerce sites है India और पूरी दुनिया में लेकिन हम यहाँ आपको कुछ famous ecommerce sites के बारे में ही बता रहे है कुछ famous ecommerce sites है flipkart, amazon, jiomart, Walmart. लेकिन इसका मतलब ये बिलकुल नहीं है की केवल online shopping sites ही ecommerce sites होती है.

जैसा की हम ऊपर भी बता चुके है की कोई भी online website जो online या internet पर व्यापार कर रही है व व्यापार करने में मदद करती है वो ecommerce site होती है

Ecommerce benefits in Hindi | Ecommerce के फायदे

  • Ecommerce कम्पनीज जो होती है वो बहुत आसानी से नए customers तक पहुँच सकती है. और एक ecommerce store सिर्फ किसी एक जगह तक ही सीमित नहीं होता. एक ecommerce store अगर चाहे तो पूरी दुनिया तक अपनी reach को ले जा सकता है
  • Ecommerce का customer को भी बहुत फायदा है क्यु की उसको खरीदारी करने के लिए कही भी जाने की जरूरत नहीं होती वो कही से भी और किसी भी समय खरीदारी कर सकता है
  • Ecommerce store को open करने के लिए आपको किसी शोरूम की जरूरत नहीं होती और staff की भी जरूरत नहीं होती जब आप शुरुवात कर रहे होते है तब. ऐसे में हम कहा सकते है की ecommerce store के लिए शुरुवाती operational cost काफी कम होती है
  • इसके अलावा technology की मदद से आप customer को बहुत ही personalised experience दे सकते है

Ecommerce disadvantages in Hindi | Ecommerce के नुकसान

  • Ecommerce में आप customer से सीधे नहीं मिलते तो कई बार customer को समझना उसकी जरुरत को समझना मुश्किल हो जाता है हलांकि ऐसे साधन है जिनकी मदद से आप online भी ये कर सकते है जैसे आप survey या customer support की मदद ले सकते है. लेकिन अगर तुलना करें face to face interaction से तो कई बार ये time consuming हो सकता है
  • Ecommerce में on spot test & try करने की सुविधा नहीं होती
  • Technology breakdown भी ecommerce business को नुकसान पहुंचा सकती है जैसे website के down होने से सेल zero हो सकती है

तो इस article में हमने आपको बताया की e commerce kya hai, e commerce full form in Hindi क्या होती है. वैसे pros और cons तो हर business के ही होते है वैसे ही ecommerce के भी है. लेकिन pros ज्यादा है और आज के समय जब हर हाथ में internet है तो ऐसे में e commerce के भविष्य को लेकर संशय करना बेकार है. e commerce का भविष्य काफी उज्वल है. तो हम कह सकते है की आज के समय और आने वाले समय में ecommerce का future बहुत ही bright है

dtt logo

ये लेख devtechtips.com की संपादकीय टीम के द्वारा लिखा गया है आप चाहे तो हमारे ब्लॉग को सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते है
Facebook | Instagram | Telegram

Spread the love

Leave a Comment