Email क्या है Email Full Form in Hindi

Spread the love

WHAT IS EMAIL?

आपने देखा होगा कि email का use आपके school, colleges और offices द्वारा एक medium of instruction के तौर पर किया जाता है। आज के modern technology के युग में businesses, governments और non-governmental organizations द्वारा email को widely accept किया गया है। तभी हम आज email के बारे में जानकारी ले कर के आये है इस article में आप जानेंगे कि email kya hai, Gmail ka full form, email id ka full form, email cc full form, email me bcc ka full form, और email full form in Hindi क्या होता है?

FULL FORM OF EMAIL

तो अब बात आती है email full form की, email full form in English Electronic mail होती है। हिंदी में भी email ka full form इलेक्ट्रॉनिक मेल ही है। पर email meaning in Hindi तीव्र पत्र हो सकता है।

email kya hai?

Electronic mail (email या e-mail) electronic devices का use करने वाले लोगों के बीच messages (“mail”) का exchange करने का एक method है।

Ray Tomlinson को email के inventor के रूप में credit दिया जाता है; 1971 में, उन्होंने ARPANET के different hosts पर users के बीच mail भेजने वाला first system बनाया, जिसमें destination server के साथ user name link करने के लिए @ sign का उपयोग किया गया था। Email computer networks, मुख्य रूप से internet पर operate करता है। आज के email system एक store-and-forward model पर आधारित हैं। Users को mail send और receive करने के लिए mail server या webmail interface से connect करने की आवश्यकता होती है।

Gmail ka full form

Gmail का full form Google mail होता है। Users web पर Gmail का use कर सकते हैं और third-party programs का use कर सकते हैं। जो कि POP या IMAP protocol के जरिए email content को synchronize करते हैं।

इस के अलावा एक ओर important term email id है। इस email id ka full form Electronic mail identification directory होता है। एक email id, एक email account का unique identifier होता है। इसका use internet पर email messages send और receive करने के लिए किया जाता है।

Founder of Email

Email की शुरुआत 1971 में Ray Tomlinson ने की थी।

Different Platforms of Email

  • Gmail
  • Yahoo
  • Outlook
  • Rediff
  • Hotmail
  • इसके अलावा और भी platforms है

How to write Email Address

Email address को “[email protected]” के रूप में लिखा जाता है। email address के 2 भाग होते है-

  1. Local name (@से पहले) इसमें उपयोगकर्ता का नाम होता है।
  2. Domain part (@के बाद) इसमें company का नाम होता है।

CC AND BCC IN EMAIL

जब भी आप कोई mail send करते है, तो CC और BCC दो तरीके सामने आते हैं। जिनसे आप email में recipients के रूप में अधिक लोगों को शामिल कर सकते हैं।

Email sending में email cc full form “carbon copy” होती है। जब internet और email करने का system नही होता था, तब लोग किसी भी letter की carbon copy बनाने के लिए, carbon paper का use करते थे। जिसे लोग लिखे जाने वाले letter और copy होने वाले paper के बीच रखते थे। इसी तरह CC अन्य लोगों को email की copies send करने का एक आसान तरीका है। अगर आपको कभी भी एक CC email receive हुआ है। तो आपने शायद notice किया होगा कि यह आपको और अन्य लोगों की एक list को show करता है, जो Carbon copied हो चुके हैं।

इसी तरह BCC है और email me bcc ka full form “Blind carbon copy” होता है। BCC भी CC की तरह ही अन्य लोगों को email की copies send करने का एक easy method है। इन में ये difference है कि, जब आप CC का use करते है तब आप recipients की एक list देख सकते हैं, पर ऐसा BCC के मामले में possible नहीं है। इसे blind carbon copy कहा जाता है क्योंकि CC की तरह इस में अन्य recipients यह नहीं देख पाएंगे कि किसी अन्य व्यक्ति को email की एक copy send की गई है।

Benefits of Email-id in Hindi या email ke kya fayde hai

  • Email communicate करने का बहुत उपयोगी साधन है।
  • यह communication की बाकि सभी विधियों से सस्ता है।
  • Speed बहुत अधिक है।
  • Email send करते ही receiver को receive हो जाता है।
  • Email एक समय पर अनेक receivers को एक साथ तूरन्त सन्देश भेज देता है।
  • Email account पर सभी emails का record save करके रखा जा सकता है।
  • Email भेजने के कारन paper का waste उत्त्पन्न नहीं होता।
  • इससे पर्यावरण संरक्षण भी होता है।
  • Email 24/7/365 available होता है।

ये पोस्ट भी जरूर पढ़े:

USES OF EMAIL

आज emails का use business से लेकर educational purposes के लिए किया जाता है। email ka matlab Electronic mail  होता है और इस के कुछ important uses इस प्रकार है:

  • Email marketing

Email का use कई businesses के products और services को promote करने के लिए किया जाता है। Recipient के culture के base पर, email को बिना permission के भेजा जा सकता है। “Opt-in” के ज़रिए email marketing में, अक्सर special sales offerings और new product information भेजने के लिए emails का successfully use किया जाता है। इसकी help से कई businesses को बहुत return on investment मिलती है।

  • Facilitating logistics

Business की दुनिया के maximum लोग उन लोगों के बीच के communication पर depend करते हैं, क्योकि जो लोग physically एक ही building, area या country में नहीं होते हैं। उन के लिए in-person meeting, telephone calls, या conference calls की help से communicate करना बहुत ही time-consuming, costly और inconvenient हो सकता है। पर Emails, business related दो या दो से अधिक लोगों के बीच information exchange करने का एक easy method है। जिसकी कोई set-up costs नहीं है और यह एक physical meeting या phone call से बहुत कम expensive होता है।

  • Educational purposes

अब emails का use schools और colleges द्वारा educational purposes के लिए भी किया जाता है। Email एक customizable, economic, fast और effective communication channel है, जिस का use students, parents, teachers, managers और अन्य लोगों द्वारा communication के लिए किया जाता है। अब students अपनी email-id के ज़रिए Google classroom और Zoom app पर online classes attend कर सकते है, जिस में उनकी automatic attendance भी calculate हो जाती है। इस तरह schools और colleges जैसे educational institutes में communication के लिए mails send करना एक excellent choice बन गई है।

  • Apps login

आज के modern युग में, हर कोई smartphones का use करता है। तो उन smartphones की applications को use करने के लिए अपनी email-id से login करने की ज़रूरत होती है। जैसे कि- play store से apps download करने के लिए पहले उसे email-id से link करना necessary होता है।

Conslusion

तो आपने जाना कि email kya hai, Gmail ka full form, email id ka full form, email cc full form, email me bcc ka full form, email ka full form kya hai और email full form in Hindi क्या होता है? आज emails internal और external business में सबसे preferred mode of communication है। क्योंकि यह बहुत ही simple, secure और straightforward है। इस की इन्ही खासियतो की वजह से ये business, healthcare, personal work, educational institutes और email marketing में बहुत ज्यादा use होता है।

Leave a Comment