EMI क्या है EMI Full Form in Hindi

Spread the love

WHAT IS EMI? EMI Full Form in Hindi

Loans आज सभी की life का एक important part बन गए हैं। जो कि हमें कुछ important purposes या goals को पूरा करने में मदद करते हैं। चाहे वो एक car खरीदनी हो, एक home खरीदना हो या बच्चों को foreign education देनी हो, इस सब के लिए एक साथ काफी पैसे की जरूरत होती है, लोगों की मासिक इनकम तो होती है लेकिन सब इतना पैसा जोड़ कर नहीं रखते. और अगर कुछ लोग रखते भी है तो भी वो लोन ले कर ही बड़ी investment करना चाहते है. केवल कुछ लोगो ही होते है जो सब कुछ cash ही लेते है तो हम कहा सकते है की यहाँ सब loans की वजह से आज possible है। इस तरह loans हमारे जीवन में एक important role निभाते हैं। लोन से जुड़ा एक बहुत जरूरी शब्द है EMI, जिसके बारे में हम आज बात करेंगे आज आप जानेंगे कि EMI kya hai, EMI full form in Hindi, EMI full form in English और no cost EMI meaning in Hindi क्या होता है?

FULL FORM OF EMI in Hindi & English

EMI full form in English “Equated monthly instalment” होता है। EMI ka full form Hindi me समान मासिक किस्त होता है। तो अब बात करते है कि EMI kya hai?

EMI kya hai

EMI एक fixed payment amount होती है, जिसे borrower specific period of time के लिए हर month की एक specific date को moneylender को pay करता है। EMI में एक principal component और interest component शामिल होते हैं, एक borrower को इन components के according, loan को specific number of years तक के लिए lender को pay करना होता है, जब तक के पूरा loan ना चुका दिया जाए।

जब भी आप कोई product EMIs पर लेते है तो उस पर interest लगता है। पर कुछ products आपको no cost EMI पर भी available होते है। तो no cost EMI meaning in Hindi होता है कि मासिक किस्त पर कोई लागत नहीं होगी। सरल शब्दो में कहे तो EMIs पर कोई interest नही लगेगा।

EMI CALCULATION

जैसा की आपको बताया की Equated monthly instalment, EMI ka full form है और EMI तीन factors पर depend करती है:

  • Loan amount – ये वो total amount of money होती है, जिसे borrower किसी lender से borrow करता है।
  • Interest rate – ये वो rate होता है, जिस according borrowed amount पर interest charge किया जाता है।
  • Tenure of loan – यह borrower और lender के बीच agreed time-frame होता है, इस time-frame के दौरान ही borrower को loan repay करना होता है।

EMI की calculation के लिए mathematical formula कुछ इस प्रकार है:

EMI क्या है EMI Full Form in Hindi 1

यहाँ, E = EMI

P = Principal amount loan amount

r = monthly rate of interest

n = number of months है।

इन तीन factors से ये पता चलता है कि, EMI payments, loan amount और interest rate के directly proportional होती हैं और tenure of loan के inversely proportional होती हैं। तो इस से ये conclusion निकाला जा सकता है कि जितना अधिक loan amount या interest rate होगा, तो उतनी ही ज्यादा EMI payments भी होगी।

NO Cost EMI kya hoti hai

  • NO Cost EMI की बात करे तो यहाँ आपको कोई भी ब्याज देने की जरुरत नहीं पडती। NO Cost EMI के लिए आपके पास credit card होना जरुरी है।
  • जो भी online shopping companies है जो NO Cost EMI का offer देती है। उन्होंने कुछ bank के साथ हाथ मिलाया होता है इसलिये अगर आपके पास कोई चुनिंदा bank like HDFC Bank, ICICI Bank या axis Bank के credit card है. तो आपको सबसे अच्छे offers मिलते है।
  • यदि आपका सामान 10000 रुपए का है तो आपको 10000 रुपए की EMI ही देनी है। कोई भी interest नहीं लगेगा। इससे customer को यह फायदा होता है की वह 10000 रुपए का सामान 10000 रुपए की 5-6 किश्तों में खरीद सकता है। इससे online shopping site को क्या फायदा होता है? Company उन्ही product par offer देती है जो कम बिकते है या जिनकी demand कम होती है।

ये पोस्ट भी पढ़े:

ADVANTAGES OF EMI

EMI advantages कुछ इस प्रकार है:

  • Power to buy: ये आपको आपकी monetary reach से ज्यादा वाली items को instalments pay करके, खरीदने के काबिल बनाता है।
  • Flexibility: आप different EMI options को consider करके ये decide कर सकते हो कि आप किस bank से loan लेना चाहते हो, कितनी amount instalments के तौर पर pay करना चाहते हो, और अपनी financial position के according tenure of loan भी choose कर सकते हो।
  • No middleman: आप बिना किसी middleman की help के, अपनी EMIs directly अपने lender को pay कर सकते हो।
  • Savings protection: आप अपनी savings को बिना नुकसान पहुंचाए, minimum regular payments अपनी EMIs के तौर पर lender को pay कर सकते हो, क्योकि इस में आप को एक साथ सारी amount pay करने की ज़रूरत नही होती।

तो दोस्त्तो आज आपने जाना कि EMI kya hai, full form of EMI, EMI ka full form in Hindi, और no cost EMI meaning in Hindi क्या होता है? आज आप अपनी monetary reach से बाहर वाली items को भी EMIs पर बिना किसी middleman की help से easily खरीद सकते है। EMI पर लोन बैंक द्वारा दी जाने वाली एक बहुत अच्छी सेवा है. अगर अभी आपके मन में कोई शंका हो तो आप हमसे comment section में पूछ सकते है

 

Leave a Comment