NGO क्या है NGO Full Form in Hindi

Spread the love

NGO kya hai और  NGO Full Form in Hindi क्या होती है

NGO हर जगह हर city में होते है। बहुत लोग NGO मे काम भी कर रहे होते है और NGO भी बहुत लोगों के लिए काम कर रहा होता है । पर क्या सब NGO के बारे में सब कुछ जानते है? कई लोग जो NGO के बारे में नहीं जानते उनका सवाल होगा कि NGO full form or meaning क्या है? NGO full form in Hindi क्या है? NGO full form in English क्या है?

NGO का पूर्ण नाम या कहे full form of NGO होती है “Non-Governmental Organization”

NGO को एक निश्चित, सांस्कृतिक, शैक्षिक, धार्मिक या सामाजिक संस्थान के रूप में परिभाषित किया जा सकता है। यह ज़्यादातर केंद्र सरकार के साथ registered होते है।

NGO private agencies होते है जो स्थानीय, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सामाजिक विकास का समर्थन व विकास के लिए कार्य करते है। NGO meaning तो Non-Governmental Organization होता ही है| ये ज़्यादातर Non-Profit Organization होते भी है जहां profit कमाने के लिए नहीं बल्कि समाज को बेहतर बनाने के लिए काम किया जाता है

आमतौर पर NGO का उद्देश्य किसी सामाजिक या राजनीतिक मुद्दे को संबोधित करना होता है। कई बार NGO में कई समूह और संस्थान शामिल होते है जो पूरी तरह से या बड़े पैमाने पर सरकार से स्वतंत्र होते है।

NGO विकास के लिए निजी व सरकार से धन जुटाते है। और विभिन्न तरह के सामाजिक उथान के लिए कार्य करते है उद्धरण के लिए भोजन और परिवार नियोजन सेवाओं के लिए काम कर करना

आज, जब भी लोग “NGO” शब्द को सुनते हैं, तो वे एक ऐसे organization के बारे में सोचते हैं जो एक तरह से या किसी अन्य तरीके से life को better बनाता हो। पर यह काफी अस्पष्ट definition है। तो आज इस article में आप जानेंगे कि NGO meaning क्या है, NGO होने क्यो जरूरी है?, NGO full form Hindi में और NGO full form in English क्या है?

FULL FORM OF NGO

NGO full form in English, Non-governmental organization होती है। NGO full form in Hindi गैर सरकारी संगठन है। NGO full form in India हम Indian non-governmental organisations (NGOs) कह सकते है। Basically, India में इसे NGO और गैर सरकारी संगठन ही कहा जाता है। India में इसकी कोई अलग से कोई full form नहीं होती है

अब full form of NGO जानने के बाद यह मालूम होना भी जरूरी है कि NGO meaning क्या है? सरल शब्दो में कहे तो NGO meaning है एक ऐसा non-profit organization जो किसी भी सरकार की involvement के बिना independently operate करता है, और आमतौर पर जिसका purpose किसी social या political issue को संबोधित करना होता है।

NGOs नागरिकों द्वारा स्थापित organizations का एक subgroup होता है, जिसमें club और associations शामिल होते हैं जो कि अपने सदस्यों और अन्य लोगों को सेवाएं प्रदान करते हैं। Help Age India, CRY, Lepra society, Smile foundation और Rural Health Care Foundation जैसे Indian NGOs लोगों को empower बनाने के लिए health care sector में outstanding काम कर रहे हैं।

TYPES OF NGOs

NGOs को उनके orientation और operation के आधार पर classify किया जा सकता है:

Orientation

  • Charities: अकसर एक top-down effort, beneficiaries से कम participation या input के साथ, वे disadvantaged या कहे कमज़ोर व पिछड़े लोगों और समूहों की जरूरतों को पूरा करने के लिए NGOs को चलाते हैं।
  • Service: इसमें ऐसे NGOs शामिल हैं जो healthcare (family planning सहित) और educational services कमज़ोर व पिछड़े लोगों को प्रदान करते हैं।
  • Participation: इस में Self-help projects जिस में money, tools, land, materials, या labour के रूप में local involvement हो, वाले NGOs शामिल हैं।
  • Empowerment : Maximum beneficiaries और NGOs facilitators को शामिल करके गरीब लोगों को उनके जीवन को प्रभावित करने वाले social, political और economic factors को समझने और अपने जीवन को control करने के लिए अपनी power के बारे में जागरूकता बढ़ाना ही इस का उद्देश्य है।

Operation:

  • Operational NGOs community-based, national या international हो सकते हैं। Operational NGOs को अपने projects और programs को बनाए रखने के लिए financial donations, materials या volunteer labour के रूप में resources जुटाने होते हैं। जैसे कि Red Cross, REDDA BARNA और Save the Children organizations इन NGOs में शामिल हैं।

NGOs को उनके specific areas of work के आधार पर भी divide किया जा सकता है। जो कुछ इस प्रकार हैं:

  • BINGO – एक “big international” NGO, जैसे कि Red cross । इन्हें “business-friendly” NGOs भी कहा जाता है।
  • INGO – Mercy corps जैसे international NGO
  • ENGO – Greenpeace की तरह एक environmental NGO
  • CSO – Amnesty International जैसे civil society organization
  • GONGO – Nature के conservation के लिए International Union की तरह एक government-organized organization

NGO कैसे registerकरे

India में NGO बनने के तीन तरह के process होते है या फिर NGO का registration 3 act में से किसी भी एक act में कर सकते है ।

  • Trust Act – Trust act भारत के अलग-अलग राज्यों में होता है। लेकिन अगर किसी राज्य में कोई trust अधिनियम नहीं है तो उस राज्य में 1882 trust act लागू होता है। इस अधिनियम के अंतर्गत कम से कम 2 trustees का होना जरूरी है। Trust act के under NGO का registration, registrar के office में होता है।
  • Society Act – इस act मे NGO को society के रूप में register किया जाता है। Society act में registration के लिए memorandum of association and rules and regulations document लगाया जाता है।
  • Company Act – इस act के अन्तर्गत NGO का registration करने के लिए memorandum and article of association and regulation document की आवश्यकता होती है।

ये पोस्ट भी जरुर पढ़े:

NGO को fund कैसे मिलता है

NGO के लिए fund जमा करने के लिए NGO को कैसे promote कर सकते है

  • Create NGO website – यदि आप NGO शुरू करने जा रहे है तो आप अपने NGO की website जरूर बनायें और उस पर अपने NGO की पूरी जानकारी दे । आपके द्वारा किये जा रहे कामों के pics अपनी वेबसाइट पर डाले . आप अपनी website पर donation account भी बना सकते है । इससे होगा यह कि donation direct आपके NGO account में आ जाएगी। और कोई भी जो आपकी वेबसाइट visit करता है आपके NGO का काम देख कर अगर वो सहयोग करना चाहता है तो सीधे आपकी वेबसाइट से ही donate कर सकता है. उसे आपके office personally आने की जरूरत नहीं होगी
  • Organizing program – आप चाहो तो NGO program भी रख सकते है जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग NGO के बारे में जानेंगे । Program ऐसा रखे कई लोग आपको आर्थिक सहायता देने के लिए प्रेरित हो ।
  • Government funds – यदि आप registered NGO चला रहे है तो आप government से आर्थिक सहायता भी ले सकते है।
  • Contact private companies – आप private company को contact और mail करके भी donation करने के लिए प्रेरित कर सकते है।
  • इसके अलावा आप social media पर अपने NGO की advertisement कर के भी donation के लिए अपील कर सकते है

भारत के लोकप्रिय NGO

  • सम्मन foundation
  • गूँज foundation
  • मुस्कान foundation
  • उदय foundation
  • सरगम foundation
  • प्रथम foundation
  • अक्षय Trust
  • कर्मयोग
  • उदयकल्याण foundation
  • LEPRA Society Foundation

तो अब आप जान चुके होंगे कि NGO full form and meaning क्या है, NGO होने क्यो जरूरी है?, NGO full form Hindi me क्या है और NGO की types क्या-क्या है? जैसे-जैसे दुनिया अधिक globalized हो गई और technology ने communication को आसान बना दिया, तो अधिक से अधिक लोग दूसरों को प्रभावित करने वाले issues के बारे में aware होने लगे है। आज, Oxfam, Red cross, Goonj, Udaan Welfare foundation और Deepalya जैसे हजारों NGOs active हैं, जिन की वजह से लगता है कि NGOs एक बड़ा positive change ला रहे हैं। तो इस positive difference को बरकरार रखने के लिए NGOs की आवश्यकता हैं।

 

ये पोस्ट भी पढ़े:

 

Leave a Comment