mpin kya hota hai पूरी जानकारी हिन्दी में

what is the MPIN number in Hindi | MPIN kya hota hai in Hindi | MPIN kya Hai

आज के समय में UPI payments का बोल बाला है क्यु की इसका इस्तेमाल बेहद आसान है और net banking की तरह इसमें transaction करने के लिए IFSC code नहीं डालना पड़ता है. और इसके अलावा बहुत ही कम steps में आप कही भी पैसा transfer कर सकते है.

अगर आपके पास QR code या UPI address है तो आप किसी को भी पैसे भेज सकते है

हलांकि UPI अभी कुछ साल पहले 201६ में ही launch किया गया था फिर भी आज के समय में हर कोई इसका इस्तेमाल कर रहा है

और अगर कोई UPI का इस्तेमाल करता है तो उसको MPIN की जरूरत पड़ती ही पड़ती है. आज के इस article में MPIN के बारे में ही जानेंगे. तो चलिए जान लेते है की mpin kya hai तो आपको बता दे की mpin कुछ-कुछ ATM pin की तरह ही होता है

लेकिन MPIN जो होता है वो ATM pin से अलग होता है, MPIN का इस्तेमाल केवल mobile transaction के दौरान ही किया जाता है

ये एक 4 से 6 digit का passcode होता है जिसको आपको हर बार enter करना होता है जब भी आप mobile से transaction करना चाहते है तब इस MPIN को डाले बिना आप transaction नहीं कर सकते. MPIN number means security ये MPIN आपको सुरक्षा प्रदान करता है

आपको अपना MPIN किसी के साथ शेयर नहीं करना चाहिए ताकि अगर आपका मोबाइल किसी गलत हाथों में पड़ भी जाये तो MPIN डाले बिना कोई भी आपके banking app से transaction नहीं कर पायेगा

ये post भी जरुर पढ़े :

How to generate MPIN in Hindi | एम पिन कैसे बनाये

  • सबसे पहले आपको payment app में create/change MPIN option को खोजना होगा
  • उसके बाद वहाँ आपसे आपके debit card की expiry date और debit card के last 6 digit भरने के लिए कहा जायेगा
  • जब आप details भर देंगे तो आपको आपके registered mobile number पर OTP pin send किया जायेगा जिसको आपको payment app में भरना होगा
  • इसके बाद आपको option मिलेगा जहां पर आपने मन चाहे का UPI pin या MPIN भर सकते है
  • बस आपको ये याद रखना है की आप ये pin कभी किसी को बताये नहीं और इसको याद भी रखे भूले नहीं

 

full form of mpin | एम पिन की फुल फॉर्म

तो चलिए जान लेते है की MPIN full form क्या होती है

mpin full form होती है “Mobile Banking Personal Identification Number

MPIN की बस यही full form होती है फिर चाहे वो mpin full form in banking हो या mpin meaning in banking

ये पोस्ट भी जरुर पढ़े:

एम पिन क्यों जरूरी है | Importance of MPIN in Hindi

MPIN की जरूरत मोबाइल से money payments करके के लिए होती है क्यों की reserve bank of India ने बैंक के लिए ये जरूरी कर रखा है की वो अपनी banking app/UPI payment app में two-way authentication provide करें

और आप को बता दे की two-way authentication आपको fraud से बचाती है. अगर आपका mobile phone अनजान हाथो में चला जाता है तो बिना mpin जाने कोई भी आपकी banking app से transaction नहीं कर पायेगा

  • Banking/payment app को install करते समय first authentication जो होती है वो banking app/ UPI payment app आपका फ़ोन number check करती है की जो number आपके बैंक में registered है क्या वो number आपके उस फ़ोन में भी है. जिसमे आप banking/payment app install करने जा रहे है
  • और second authentication जो होती है वो MPIN के द्वारा होती है जिस की बारे में ये article है अगर ये mpin ना हो तो कोई भी, जिसको आपका मोबाइल मिल जाये वो आपके mobile से transaction कर सकता है. सही MPIN डालने पर app को पता चल जाता है की transaction करने वाला सही व्यक्ति है. सही MPIN डालने के बाद ही आप app को access कर पाते

 

Is MPIN and ATM pin same in Hindi | क्या एम पिन और ATM पिन दोनों एक ही होती है

इन दोनों का कार्य एक सा है यानी आपके account को fraud से बचाना और आपके बैंक account को सुरक्षा प्रदान करना. ये दोनों ही identification या authentication का feature provide करती है

लेकिन ये दोनों अलग-अलग होते है. MPIN का इस्तेमाल सिर्फ मोबाइल से होने वाली money transaction के लिए किया जाता है. वही ATM पिन का इस्तेमाल ATM operate करते समय किया जाता है. चलिए जान लेते है की MPIN का इस्तेमाल कहा-कहा होता है

  • अगर आप SBI YONO, HDFC mobile app या दूसरी ऐसी ही banking मोबाइल apps का इस्तेमाल करते है तो जब भी आप इन apps को खोलेंगे तो आपको MPIN डालना पड़ेगा. तभी ये apps open होगी
  • UPI के अलावा भी अगर आप IMPS/RTGS/NEFT का इस्तेमाल कर मोबाइल से payment करें गे तब भी आपको MPIN डालने की जरूरत पड़ेगी
  • SMS banking से भी आप transaction कर सकते है हलांकि इस SMS banking का उपयोग बहुत ही कम लोग करते है लेकिन अगर आप SMS banking के ज़रिये कोई transaction करना चाहते है तो भी आपको MPIN की जरूरत होती है
  • अगर आप बैंक के customer care पर फ़ोन करते है तो भी आप से MPIN के बारे में पूछा जा सकता है.

क्या एम पिन सुरक्षित होता है | Is MPIN safe in Hindi

एम पिन तब तक सुरक्षित है जब तक की आप इसको किसी और को न बताये. एम पिन का काम ही सुरक्षा प्रदान करना होता है. ऐसे में जब तक आप इसको private रखेगे ये सुरक्षा प्रदान करता रहेगा

क्या एम पिन जरुरी है | Is MPIN Necessary

लगभग सभी banking/UPI app में आपको ये feature देखने को मिलेगा. चाहे आपको banking/UPI app को open करना हो या कोई transaction करनी हो आपको MPIN को डालना ही पड़ेगा. ऐसे में एम पिन एक जरुरी चीज़ है.

अगर एम पिन भूल जाये तो क्या होगा | what if I forget MPIN in Hindi

अगर आप MPIN भूल जाते है तो आप ऐसा होने पर forgot MPIN feature का इस्तेमाल कर सकते है ज़्यादातर banking/upi apps में ये feature आपको देखने को मिल जायेगा. इसके अलावा आप net banking या debit/credit card का इस्तेमाल करके भी MPIN को reset कर सकते है

How to generate MPIN in Hindi | एम पिन कैसे बनाएं

जैसा की हमने बताया की MPIN जो होता है वो ATM PIN से अलग होता है और ये आपको आमतौर पर जब आप बैंक में खाता खुलवाते है तो banking kit में ही मिलता है. हलांकि कुछ bank में ये optional होता है और जब आप mobile banking के लिए opt करते है तभी आपको ये provide करवाया जाता है

कुछ banking app को जब आप install करते है उसके बाद आप app को set करते समय MPIN बना सकते है

अगर आप का बैंक में बहुत ही पुराना खाता है तो आप mobile banking ले लिए बाद में भी apply कर सकते है

MPIN आप तीन तरीके से ले सकते है

  • MPIN लेने के लिए आप बैंक जा सकते है और वह MPIN apply कर सकते है
  • कुछ बैंक में MPIN online देने की सुविधा भी होती है
  • इसके अलावा आप ATM जा कर भी mobile banking को activate कर सकते है

एम पिन का इस्तेमाल किन-किन ट्रांसक्शन के लिए किया जाता है

मोबाइल बैंकिंग, SMS बैंकिंग, IMPS, USSD बैंकिंग व UPI app का इस्तेमाल करते समय आपको ये डालना पड़ता है

निष्कर्ष

इस article में हमने आपको बताया की MPIN number kya hota hai, MPIN ka matlab kya hota hai, और आप MPIN को कैसे generate कर सकते है. MPIN आपके account को safety provide करने में मदद करता है लेकिन कई बार आप इसको भूल भी सकते है तो ऐसे में घबराने की जरूरत बिलकुल नहीं है. क्यु की ऐसा होने पर आप इसको दुबारा generate कर सकते है. वैसे तो हम आपको suggest करेंगे की आप MPIN को किसी डायरी या अन्य सुरक्षित स्थान में लिख कर रख ले

लेकिन अगर फिर भी अगर आप MPIN भूल जाते है तो आप इसको ATM, net banking की मदद से दुबारा generate कर सकते है

dtt logo

ये लेख devtechtips.com की संपादकीय टीम के द्वारा लिखा गया है आप चाहे तो हमारे ब्लॉग को सोशल मीडिया पर फॉलो कर सकते है
Facebook | Instagram | Telegram

Spread the love

2 thoughts on “mpin kya hota hai पूरी जानकारी हिन्दी में”

Leave a Comment